चांद के बाद भारत का मेगा सूर्य मिशन ‘आदित्य एल1’ 

अब भारत ने सूरज की ओर मिशन लॉन्च कर दिया है. यह भारत का पहला सूर्य मिशन लॉन्च है.

सूर्य और पृथ्वी के बीच मौजूद L1 पॉइंट पर पहुंचने के लिए 125 दिन का समय लगेगा

यह पॉइंट धरती से 15 लाख किलोमीटर की दूरी पर है. यह धरती से सूरज की दूरी का मात्र 1 फीसदी है.

भारत के पहले सूर्य मिशन आदित्य एल-वन ने 11 बजकर 50 मिनट पर सूर्य की तरफ उड़ान भरी.

इस मिशन में ₹ 400 करोड़ लगाए गए हैं।

भारत इस मिशन के जरिए सूरज के बारे में स्टडी करने वाला हैं।

सूर्य के बारे में जानकारी के इस मिशन का नाम ‘आदित्य एल1’ हैं।

सूरज के बारे में अध्ययन करके ये जाना जा सकेगा कि मौसम में बदलाव और ग्लोबल वार्मिंग की असली वजह क्या है?

आदित्य-L1 में सात पेलोड यानी उपकरण लगे हैं. इनके जरिए फोटोस्फेयर, क्रोमोस्फेयर और सूरज की सबसे बाहरी परतों यानी कोरोना की स्टडी होगी

आकाश में परचम लहराने के बाद पाताल में खोज करेगा भारत